Reliance Industries ने Shubhalakshmi Polyesters को 1592 Cr में खरीद लिया।

जी हाँ दोस्तों आपने सही सुना है Reliance Petroleum Retail ने। Shubhalakshmi Polyesters और Shubhlaxmi Polytex को 1522 Cr और 70 करोड़ में खरीद लिया। आपको यहाँ बता दें कि यह ट्रांजैक्शन कैश में हुआ है।

Reliance Petroleum Retail का आप नाम चेंज हो के, “Reliance Polyester” हो चुकें हैं। जो कि एक रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी है। खुद उन्होंने। नोट्स शनिवार को पॉलिएस्टर बिज़नेस को खरीद लिया है। आपको हम बता दें की इसमें शुभ लक्ष्मी पॉलिस्टर SPL और शुभ लक्ष्मी पॉलिस्टर SPTex को 1522 Cr और 70 करोड़ में कैश में खरीदा है।

आपको यहाँ बता दें कि यह डील में भी कॉम्पिटिशन कमिशन ऑफ इंडिया की अप्रूवल नहीं हुई है, लेकिन वह जल्द ही अप्रूवल भी उनको मिल जाएगा।

Shubhalakshmi Polyesters क्या करती है?

अगर आपको यह नहीं पता की Shubhalakshmi Polyesters क्या करती है? तो हम आपको बता दें की ये कंपनी फाइबर, Yarns और टेक्सटाइल को बनाती है। वो भी डायरेक्ट पॉलिमराज़एशन टेक्नीक से। उसको वो लोग एक्स्ट्रा टैक्सराइज़ करके अपनी तरीके से काफी अच्छा बनाते हैं। आपको हम यहाँ बता दें कि इस कंपनी की अभी दो ब्रांच है। मतलब दो महीने फैक्चरिंग यूनिट है, एक है दहेज जो कि गुजरात में आता है और दूसरा सिलवास,जो की दादरा ऐंड नगर हवेली में है।

आखिर Reliance Industries ने इस कंपनी को क्यों खरीदा?

आप सोच रहे होंगे की आखिर रिलायंस ने इस कंपनी को क्यों खरीदा? तो हम आपको बता दे की ऐसा बड़े बड़े बिजनेसमैन अक्सर करते हैं ताकि वो अपना बिज़नेस बहुत ही ज्यादा ग्रो कर सकते हैं और अपने बिज़नेस को ग्लोबली एक्सपैंड कर पाए। और आपको तो पता ही है कि रिलायंस कितनी बड़ी कंपनी है, तो अगर उन्होंने ऐसा किया तो कुछ अच्छा ही सोच समझकर किया होगा।

कुछ लोगों का यह भी कहना है कि अगर आप अभी इसका स्टॉक खरीद लेते हैं तो आपको फ्यूचर में जाके बहुत ही अच्छा रिटर्न मिलने वाला है। अब मैं आपको स्टॉक मार्केट की सलाह नहीं दे रहा, लेकिन मैं बस यही बता रहा हूँ की कुछ लोगों का यही मानना है। जो कि अक्सर सच ही होता है। अगर हम पुराने रिलायंस कंपनी के प्रॉफिट Chart देखें तो काफी अच्छा रिटर्न देती है, बाकी और कंपनी के मुकाबले। क्योंकि अगर रिलायंस कंपनी किसी काम को करती है तो वो अच्छे से ही करती है।

आपको यहाँ बता दें कि पिछले दिन कुछ और भी कंपनियों ने कुछ कंपनी को खरीदने का ट्राई किया था लेकिन बैंक के कारण वो लोग ऐसा कर नहीं पाए।

फाइबर क्या है?

दोस्तों आप सोच रहे होंगे की फाइबर आखिरी उसका यूज़ किया है तो हम आपको बता दें कि फाइबर वो चीज़ है जो की आप अक्सर ब्रॉडबैंड में देख पाएंगे, जैसे कि जियोफाइबर और एयरटेल फाइबर। और जो फाइबर इंटरनेट में डार यूज़ होती है वह फाइबर ऑप्टिक्स टेबल होती है और आपको तो पता ही होगा की फाइबर इंटरनेट कनेक्शन की कितनी ज्यादा स्पीड आती है। तो इसकी डिमांड ग्लोबली है और यह बहुत ही अच्छा बिज़नेस है।

उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर आपको कोई चीज़ नहीं समझ में आयी तो कमेंट करें। ऐसे ही और बिज़नेस न्यूस के लिए हमारे ब्लॉक को फॉलो करें और अगर आपको हमारे इस आर्टिकल से कुछ सीखने को मिला या पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें। फिर मिलते है। कब तक अपनी फैमिली का ध्यान रखें और सुरक्षित रहे।

Leave a Comment