क्या Vi और BSNL हमेशा,Struggle ही करेगी?

आपको तो पता ही होगा कि वोडाफोन आइडिया और बीएसएनएल कंपनी की हालत कितनी खराब है ये दोनों कंपनियां भी Cash Crunch से जूझ रही है और बीएसएनएल की हालत इतनी खराब ही है की उन्होंने अभी तक 4G सर्विसेज अभी लॉन्च नहीं किया है।

दोस्तों, हम आपको बता दें कि वोडाफोन आइडिया और भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) के नाम से भी जाना जाता है। वह दोनों कंपनियां अगले कुछ सालों में बहुत ही ज्यादा स्ट्रगल करने वाली है। आपको तो पता ही होगा कि यह दोनों कंपनी कितने दिनों से स्ट्रगल कर रही है। वोडाफोन आइडिया की हालत इतनी खराब है की गवर्नमेंट ने उसकी हेल्प की कंपनी को बचाने के लिए। हर वहीं पे हम अगर बात कर लेती हैं BSNL की तो बीएसएनएल के एंप्लॉयीज काफी ज्यादा नाराज हैं, अपने मालिक से।

How will BSNL & Vi Survive?

दोस्तों मैं आपको बता दूँ कि अगर ये दोनों कंपनियों को मार्केट में सर्वाइव करना है तो इनको बहुत ही ज्यादा पैसे की जरूरत पड़ेगी और पैसे कमाने के लिए उनके पास अपने सब्सक्राइबर्स ही है। तो सबसे पहले ये लोग तो यह कर सकते हैं की ये लोग अपना ऐवरेज रेवेन्यू पर यूजर जिसको ARPU के नाम से भी जाना जाता है। उसको बढ़ा दें, और फिर अपने सब्सक्राइबर्स खोने का रेट जो सिम लोग पोर्ट आउट करवातें है वो लोग कम करवाए।और फिर तीसरा आता है की ये लोगों को एक्सटर्नल इन्वेस्टर्स से बहुत ही ज्यादा फंड की जरूरत पड़ने वाली है। क्योंकि आपको तो पता ही होगा की फाइव जी भी आने वाली हैं तो फाइव जी में अगर इन लोगो को सर्वाइव करना है तो बहुत ही ज्यादा इनको पैसे की जरूरत पड़ेगी। ताकि अच्छा से अच्छा इन्फ्रास्ट्रक्चर लगाके अच्छी से अच्छी सर्विसेज प्रोवाइड कर पाए।

आखिर Vodafone Idea कंपनी कैसे Recover कर पाए?

दोस्तों, यहाँ पे हम अगर वोडाफोन आइडिया की बात कर ले तो आपको हम बता दें कि वोडाफोन आइडिया कंपनी सितंबर 2021 से पहले लोगों को यह लग रहा था कि वोडाफोन आइडिया कंपनी बंद होने वाली है क्योंकि यह कंपनी को भी प्रॉफिट नहीं कमा रही थी और कोई भी नए सब्सक्राइबर्स इनके कंपनी में नहीं आ रहे थे। और ये कंपनी में बहुत ही ज्यादा लॉस हो रहा था, बस क्योंकि इनका कैपिटल बहुत ही ज्यादा बढ़ गया था। तो उस टाइम पे आपको हम बता दे की गवर्नमेंट ने इनकी मदद की, जी हाँ दोस्तों दरअसल गवर्नमेंट ने वोडाफोन आइडिया को Shares खरीद के पैसे देकर मदद की। और गवर्नमेंट ने इनका, एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू, और फिर स्पेक्ट्रम मुझे चार्जर भी 4 साल के लिए छोड़ दिया।

Government helped BSNL

वहीं पे अगर हम बात कर ले बीएसएनएल की तो हाल ही में गवर्नमेंट ने एक बजट पास किया है जिसमें बीएसएनएल को काफी ज्यादा पैसे अलॉट किया गया है यह इसलिए किया जा रहा है क्योंकि BSNL इकलौती गवर्नमेंट कंपनी है और यहाँ बहुत ही ज्यादा Trusted कंपनी है। मतलब की सरकारी सर्विसेज में सब लोग बीएसएनएल ही यूज़ करते हैं। और अगर बीएसएनएल ही डूब जाएगा तो सरकार के जीतने भी कम्यूनिकेशन्स होते हैं और जो भी प्राइवेट डेटा होती है वो अगर दूसरे टेलीकॉम ऑपरेटर से जाने लगेगा तो फिर ये बहुत ही बड़ी दिक्कत वाली बात है।

आखिर क्या होगा इन दोनों कंपनी का Furure में?

दोस्तों अगर इन दोनों कंपनी को फ्यूचर मैं सर्वाइव करना है, तो पहली बात तो वोडाफोन आइडिया को तो बहुत ही अच्छी 5G प्रोवाइड करनी पड़ेगी और उनको या उनके जीतने भी फ्रिक्वेंट कॉल ड्रॉप और जो भी कनेक्टिविटी इश्यू हो जाते हैं, उनको फिक्स करना होगा और वहीं पे हम बात कर ली बीएसएनएल की तो बीएसनएल को जल्द से जल्द 4G सर्विसेज कम से कम लॉन्च करना होगा। क्योंकि अब 5G लॉन्च हो चुका है दोस्तों और अभी भी BSNL 4G तक लॉन्च नहीं कर पाया तो बहुत से लोगों का ये भी आशा है की जल्द से जल्द फ़ोर जी लॉन्च करें ताकि वो कम से कम हाई स्पीड इंटरनेट का मज़ा ले पाए, थोड़े सस्ते प्राइस में।

दोस्तों, बस आज के आज के लिए इतनाही उम्मीद है आपको कुछ इन्फॉर्मेशन मिली होगी। अगर आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें। फिर मिलते हैं अगले आर्टिकल में धन्यवाद।

Leave a Comment